School of Economics | Globel Environment Impact
274
archive,tag,tag-globel-environment-impact,tag-274,ajax_fade,page_not_loaded,,qode-title-hidden,qode_grid_1300,qode-content-sidebar-responsive,qode-theme-ver-11.1,qode-theme-bridge,wpb-js-composer js-comp-ver-5.1.1,vc_responsive

संयुक्त राष्ट्र द्वारा हाल ही में जारी की गई रिपोर्ट में दावा किया गया है कि वर्ष 2016 में वायु प्रदूषण के उच्च स्तर के कारण विश्व भर में 42 लाख लोगों की मौत हुई है. यह वायु प्रदूषण विभिन्न स्रोतों से हुआ तथा विभिन्न...

*पर्यावरण प्रदर्शन सूचकांक में भारत 177वें स्थान पर*   पर्यावरण दिवस पर 05 जून 2018 को पर्यावरण प्रदर्शन सूचकांक (ईपीआई) की रेटिंग जारी की गई. इसमें भारत को 177वां स्थान प्राप्त हुआ जबकि सूचकांक में शामिल कुल देशों की संख्या 180 है. वर्ष 2016 में  भारत इस सूची...

*By_नंदन नीलेकणि, चेयरमैन, इन्फोसिस* दिल्ली की एक बड़ी समस्या है। यहां हर बार सर्दी में लोग महसूस करते हैं कि वे हर दिन 50 सिगरेट के बराबर धुआं अपने फेफड़ों में भर रहे हैं। लेकिन कुछ दिनों के अंदर जैसे ही हवा से धुंध छंट जाती...

All India Radio (AIR) : Implications of US withdrawal from Paris Climate Accord   Bilateral, regional and global groupings and agreements involving India and/or affecting India’s interestsEffect of policies and politics of developed and developing countries on India’s interests, Indian diaspora. In news: World’s second largest greenhouse gas emitter...