School of Economics | Discover, Learn & Grow
0
home,blog,paged,paged-78,ajax_fade,page_not_loaded,,qode-title-hidden,qode_grid_1300,qode-content-sidebar-responsive,qode-theme-ver-11.1,qode-theme-bridge,wpb-js-composer js-comp-ver-5.1.1,vc_responsive

    1.गैर-वन क्षेत्र में उगाया बांस अब नहीं है पेड़ • कांग्रेस समेत कुछ विपक्षी सदस्यों के बहिर्गमन के साथ ही भारतीय वन (संशोधन) विधेयक राज्यसभा से पारित हो गया। इसी के साथ अब गैर-वन क्षेत्रों में उगाए गए बांस को वृक्ष नहीं माना जाएगा तथा इसकी...

  (जयंतीलाल भंडारी, अर्थशास्त्री ) नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर अप्लाइड इकोनॉमिक रिसर्च की रिपोर्ट के अनुसार, देश में मध्यम वर्ग के 17 करोड़ लोग हैं, जबकि आयकरदाताओं की संख्या महज 6.26 करोड़ है। माना जाता है कि सामान्य तौर पर वेतनभोगी वर्ग ही निर्धारित आयकर चुकाता है, लेकिन...

* 24 December 2017* 1.सरकारी बैंकों को उबारने के लिए नौ सूत्र • यह बात तो किसी से भी छिपी हुई नहीं है कि सरकारी बैंक बेहद चुनौतीपूर्ण दौर से गुजर रहे हैं। कुछ ही दिन पहले स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक और मूडीज ने भारतीय बैंकों पर जारी...

🤗🤗🤗🤗🤗🤗🤗🤗🤗 * 23 December 2017* 1.व्यापक हित देख अरब देशों के साथ खड़ा हुआ भारत • अमेरिका और इजरायल के साथ हाल के वर्षो में प्रगाढ़ होते रिश्तों के बावजूद भारत ने यरुशलम के मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) में अरब देशों के साथ खड़े होकर यह...

  22 December 2017(Friday) 1.यरुशलम पर भारत ने अमेरिका के खिलाफ डाला वोट • संयुक्त राष्ट्र महासभा ने गुरुवार को एक प्रस्ताव पारित कर अमेरिका से यरुशलम को इजरायल की राजधानी के तौर पर मान्यता देने के फैसले को वापस लेने को कहा है। तुर्की और यमन की...

आभार_हर्ष वी पंत, प्रोफेसर, किंग्स कॉलेज, लंदन* अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा जारी नई राष्ट्रीय सुरक्षा रणनीति बताती है कि दुनिया एक स्थाई आर्थिक प्रतिस्पद्र्धा में घिरी हुई है, जिसमें वाशिंगटन की भूमिका विदेशों में लोकतंत्र को बढ़ावा देने तक ही सीमित नहीं है, बल्कि अमेरिका...

*आभार_स्वर्ण सिंह, प्रोफेसर, जेएनयू* आज से भारत और चीन के विशेष प्रतिनिधियों की 20वें चक्र की दो दिवसीय वार्ता नई दिल्ली में शुरू हो रही है। इस बातचीत में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और चीन के स्टेट कौंसिलर यांग जीची शिरकत करेंगे। साल 2003 में...

Prabhat Patnaik The fact that there has been a slowdown of late in the rate of growth of the Indian economy is accepted by all, including even Narendra Modi in his all-over-the-place diatribe against critics on October 4. The government however sees it as remediable since...

🤗🤗🤗🤗🤗🤗🤗🤗🤗 *दैनिक समसामयिकी 20 December 2017* 1.अमेरिका ने भारत को वैश्विक शक्ति माना • अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपनी बहुप्रतीक्षित राष्ट्रीय सुरक्षा रणनीति की सोमवार को घोषणा कर दी है। दुनिया भर में इस नीति की चर्चा इसलिए हो रही है कि ट्रंप ने चीन को अपना...

*आभार_डॉ. भरत झुनझुनवाला* इन दिनों बिटक्वॉइन की खूब चर्चा है कि इसने लोगों को खूब मालामाल कर दिया है। सरकार और नियामकों द्वारा तमाम चेतावनियों के बावजूद लोगों का इससे मोहभंग नहीं हो रहा है। वर्ष 2008 की वित्तीय मंदी के बाद जब दुनियाभर के बाजार...