School of Economics |
0
home,blog,paged,paged-84,ajax_fade,page_not_loaded,,qode-title-hidden,qode_grid_1300,qode-content-sidebar-responsive,qode-theme-ver-11.1,qode-theme-bridge,wpb-js-composer js-comp-ver-5.1.1,vc_responsive

  1.मोदी ने आसियान नेताओं का किया आह्वान और बोले अब आतंक के खात्मे का वक्त • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को आसियान सदस्य देशों के नेताओं को संबोधित करते हुए कहा है कि हमारे समक्ष एकजुट होकर आतंकवाद को खत्म करने के बारे में सोचने...

  1.आसियान शिखर सम्मेलन : पीएम ने आसियान बिजनेस फोरम में भारत को निवेश के लिए बताया आकर्षक • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आसियान के मंच से भारत को निवेश के लिहाज से आकर्षक देश के तौर पर पेश करने की पुरजोर कोशिश की है। • पीएम ने...

*By_Avdesh kumar* जीएसटी में एक महीने के अंदर कर स्लैब में दो बार व्यापक परिवर्तन सामान्य नहीं है। जाहिर है सरकार को यह अहसास हुआ है कि एक जुलाई को जीएसटी लागू करते समय चार श्रेणियों के करों में जिन-जिन वस्तुओं को रखा गया था उसमें...

*आसियान शिखर सम्मेलन : पीएम ने आसियान बिजनेस फोरम में भारत को निवेश के लिए बताया आकर्षक* 🔶• प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आसियान के मंच से भारत को निवेश के लिहाज से आकर्षक देश के तौर पर पेश करने की पुरजोर कोशिश की है। • पीएम ने...

*_THE HINDU ARTICLE_* _Prime Minister Narendra Modi’s visit to the Philippines to attend the ASEAN-India summit, the East Asia Summit and the Regional Comprehensive Economic Partnership summit has put India centre-stage in the Asian region now referred to as “Indo-Pacific”. Equally, it puts the “Indo-Pacific” and...

*_The Hindu Editorial _* _The script was altered for the second time in two months but with far greater impact. Soon after Prime Minister Narendra Modi promised far-reaching changes to simplify the goods and services tax regime, especially for small businesses and consumers, the GST Council...

  (अनिल उपाध्याय) काले धन के खिलाफ कार्रवाई के क्रम में सरकार ने दो लाख चौबीस हज़ार कंपनियों को रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज के रिकॉर्ड में से समाप्त कर दिया है। इसका मतलब है कि उनका अस्तित्व अब नहीं रहा और वह अब अपने कार्य को नहीं कर...

Prabhat Patnaik Thomas Piketty and Lucas Chancel have just written a paper as part of their work for the World Inequality Report discussing the movement of income inequality in India. And their conclusion is that the extent of income inequality in India at present is greater than it...