School of Economics |
0
home,blog,paged,paged-89,ajax_fade,page_not_loaded,,qode-title-hidden,qode_grid_1300,qode-content-sidebar-responsive,qode-theme-ver-11.1,qode-theme-bridge,wpb-js-composer js-comp-ver-5.1.1,vc_responsive

हरित क्रांति –खाद्यान्न उत्पादन श्वेत क्रांति – दुग्ध उत्पादन नीली क्रांति – मत्स्य उत्पादन भूरी क्रांति – उर्वरक उत्पादन रजत क्रांति – अंडा उत्पादन पीली क्रांति – तिलहन उत्पादन कृष्ण क्रांति – बायोडीजल उत्पादन लाल क्रांति – टमाटर/मांस उत्पादन गुलाबी क्रांति – झींगा मछली उत्पादन बादामी क्रांति – मासाला उत्पादन सुनहरी क्रांति – फल उत्पादन अमृत...

  (अमरनाथ त्रिपाठी) वर्तमान केंद्र सरकार वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लिए प्रयासरत है। प्रारंभ में जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसके बारे में जिक्र किया तो लोगों को समझ में नहीं आया कि वह किस तरह आय बढ़ाने की बात कर रहे...

  (हर्ष वी पंत) हाल में ही 14वां भारत-यूरोपीय संघ (ईयू) सम्मेलन दोनों पक्षों के बीच कारोबार और सुरक्षा संबंधों को मजबूत बनाने पर सहमति के साथ समाप्त हो गया। हालांकि इस बहुप्रतीक्षित सम्मेलन से कारोबार के मोर्चे पर बहुत कुछ होने की उम्मीदें की जा रही...

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~ *चर्चा में क्यों?* हाल ही में अमेरिका ने संयुक्त राष्ट्र के सांस्कृतिक संगठन यूनेस्को से हटने की घोषणा की है। अमेरिका ने इसकी वज़ह यूनेस्को द्वारा इज़राइल विरोधी रुख अपनाया जाना बताया है। इसके अलावा अमेरिका ने संगठन के बढ़ते हुए आर्थिक बोझ को लेकर भी...

  👉👉By-Prabhat Ranjan Sir Delhi 🔰🔰🔰🔰🔰🔰🔰🔰🔰🔰🔰🔰🔰🔰🔰🔰 मानव जगत मे उत्साह उमंगो एवं सपनो का सर्वोक्रष्ट जीवीत पुंज बच्चो को माना गया है, बच्चे किसी भी राष्ट्र के भविष्य का प्रतिनिधित्व करते है । वे देश के भावी कडधार एवं प्रतीक का आईना है, बच्चे का चमकता हुआ चेहरा...

  • अब तक भी राष्ट्रीय बचत पत्र (एनएससी) व मासिक आय योजना समेत तमाम लघु बचत स्कीमों के तहत जमा स्वीकार करेंगे। केंद्र सरकार ने इसके लिए बैंकों को मंजूरी दे दी है। केंद्र ने इसके लिए अधिसूचना जारी कर दी है। आइसीआइसीआइ समेत तीन...

      1.डिजिटल परिवर्तन के रोमांचक दौर से गुजर रहा भारत: आईएमएफ • भारत वर्तमान में डिजिटल परिवर्तन के रोमांचक दौर से गुजर रहा है। पूरी दुनिया को भारत की इस यात्रा से बहुत कुछ सीखने को मिलेगा। यह कहना अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) का। आईएमएफ ने अपनी...

  *(देविंदर शर्मा, कृषि विशेषज्ञ)* ऐसे वक्त में, जब वैश्विक खाद्य भंडार 72.05 करोड़ टन के साथ रिकॉर्ड तेजी से बढ़ रहा है, एक परेशान करने वाली खबर आई है। संयुक्त राष्ट्र खाद्य एवं कृषि संगठन का आकलन है कि पिछले 15 वर्षों में पहली बार भूख...

  विश्व खाद्य दिवस प्रतिवर्ष 16 अक्टूबर को मनाया जाता है। यह दिवस खाद्य एवं कृषि संगठन (एफएओ) का स्थापना दिवस है। एफएओ को संयुक्त राष्ट्र की विशिष्ट संस्था के तौर पर 16 अक्टूबर 1945 को रोम में स्थापित किया गया था। इस दिवस को मनाने का...

  ✍ *1.आइएमएफ ने सुझाये सुधारों के सूत्र* • अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आइएमएफ) ने भारत को तीन सूत्रीय ढांचागत सुधार का दृष्टिकोण अपनाने का सुझाव दिया है। इन सुधारों में कॉरपोरेट और बैंकिंग क्षेत्र को कमजोर हालत से बाहर निकालना, राजस्व संबंधी कदमों के माध्यम से वित्तीय...